क्या आप अपने पति को खुश देखना चाहती हैं ? तो अपनी सास की देखभाल करें

Happy Husband? Take Care of Your Mother-in-Law

प्रत्येक रिश्ते के अपने उतार-चढ़ाव होते हैं। आपके और आपके साथी के बीच बहुत अच्छा और मधुर समय बीत रहा होता है जब तक आपकी सास आप दोनों के बीच नहीं आ जाती। मेरे कहने का ये मतलब बिल्कुल नहीं है कि हर सास क्रूर, मतलबी या स्वार्थी होती हैं परंतु 55 प्रतिशत पुत्रवधु अपनी सास के बारे में ऐसा ही महसूस करती हैं। आप भले ही उन्हें अपनी दोस्त या माँ के रूप में स्वीकार करना पसंद नहीं करती, परंतु आपको उन्हें वो सम्मान देना होगा जिसकी वो हकदार हैं क्योंकि वो उस आदमी की माँ हैं जिससे आप प्यार करती हैं। वो आपके पति के आपके साथ होने की वजह हैं। यदि आप अपने पति को खुश देखना चाहती हैं, पर आपके अपनी सास से मतभेद हैं तो इनसे निपटने के उपाय यहाँ हैं –

अपनी योग्यताओं पर भरोसा रखें

वो एक अच्छी कुक या बेकर हो सकती हैं या घर के बजट को संतुलित रखने में माहिर हो सकती हैं, आपको उनके इस काम में अपने को बेहतर साबित करने की जरूरत नहीं है। अपने पति के दिल में उनकी तुलना में ज्यादा जगह बनाने की कोशिश न करें क्योंकि उनके दिल में आप दोनों के लिए पर्याप्त जगह है। अपनी योग्यताओं कस प्रदर्शन उन चीज़ों में करें जिनसे आपका पति प्यार करता है या उम्मीद रखता है, चाहे वो आपका खाना बनाना हो, घर को सुव्यवस्थित रखना हो या बच्चों की देखभाल। इस तरीके से आप उन्हें आपसे ज्यादा प्यार करते हुए पाएंगी।

उनका सम्मान करें

वो अच्छी हो भी सकती हैं और नहीं भी, पर जैसा मैंने कहा, आप जिस तरह अपने पति से प्यार करती हैं उसकी वजह वो ही हैं। तो वो आपसे और आपके बच्चों से सम्मान पाने की पूरी हकदार हैं।

उनकी सकारात्मक बातों को देखने की कोशिश करें

हर व्यक्ति में कुछ न कुछ भलाईयाँ और अच्छाईयां होती हैं। उनकी सकारात्मक बातों को प्रोत्साहित करें और उनकी सराहना करें जिससे उन्हें पता चले कि उनकी इन चीज़ों को आप बहुत अच्छा मानती हैं।

माँ और बेटे को थोडा समय साथ बिताने दें

अगर वो आपसे मिलने आ रही हैं या शायद कुछ दिनों के लिए आपके साथ रहने के लिए आ रही हैं, या आपसे कुछ खुशनुमा बातचीत करना चाहती हैं या अपने पुत्र से प्यार भरी बातें करना चाहती हैं, तो उन दोनों को कुछ व्यक्तिगत समय दें और कुछ समय के लिए दैनिक कार्य या बच्चों की देखभाल के लिए बाहर चली जाएँ।

अपनी माँ की तरह उनकी देखभाल करें

भले ही वो आपकी माँ के जैसी न हो या उनकी तरह आपको प्यार नहीं करती हैं, पर उन्हें आपकी देखभाल की जरूरत है खासकर जब वो आपके पति की एकमात्र जीवित संरक्षक हों। आपके पति भी आपके माता-पिता का उतने ही अच्छी तरह ख्याल रखेंगे जितना की आप उनकी माँ का रखती हैं।

तालमेल बना कर रखें

चाहे आप अच्छे दोस्त हों या सबसे बड़े दुश्मन, एक दूसरे से संपर्क में रहना बहुत जरूरी है। जितना ज्यादा आप किसी को देखते हैं उतना ही ज्यादा आप उसे जान जाते हैं, और उसके प्रति आपकी दिलचस्पी और बढ़ जाती है या इसका उल्टा भी हो सकता है। यदि आप साथ-साथ रहती हैं तो आपस में तालमेल बना कर रखें, जिससे उन्हें पता चले की आप हर काम में उनकी सहमति चाहती हैं।

अपने पति के सामने अपनी “सास वाली समस्याएं” न रखें। सच बोलें और अपना पक्ष उन पर आरोपित करने की कोशिश न करें। इससे आपके पति को पता चलेगा कि आप उनकी माँ के आसपास होने वाली हर परिस्तिथि को संभाल सकती हैं और आप उन्हें अपने और करीब पाएंगी।

Tags:

This post is also available in: English

0 Comments

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

© 2015-2016 An initiative by Web Empire

Log in with your credentials

Forgot your details?